हमीदिया की नई बिल्डिंग में सारे ब्लॉक आपस में होंगे कनेक्टेड, जून तक पूरा होगा काम 

हमीदिया की नई बिल्डिंग में यदि आपको एक ब्लॉक से दूसरे ब्लॉक में जाना हो तो आपको अस्पताल से बाहर आने की जरूरत नहीं पड़ेगी। हमीदिया के सभी ब्लॉक और मल्टीलेवल पार्किंग को कनेक्ट करने के लिए एक अंडर ग्राउंड टनल, 5 कनेक्टिंग काॅरिडोर और एक फुट ओवर ब्रिज का निर्माण किया जा रहा है, जिससे आप आसानी से किसी एक ब्लॉक से दूसरे ब्लॉक में जाकर इलाज करवा सकेंगे।

पहले इस पूरे काम के मार्च के दूसरे सप्ताह में पूरे होने की उम्मीद थी, लेकिन काम की रफ़्तार को देखते हुए इसके जून तक पूरे होने की संभावना है। गौरतलब है कि हमीदिया के पीछे एक नवीन बिल्डिंग का कार्य चार वर्षों से जारी है, जिसमें 2 हजार बिस्तरों का एक नवीन अस्पताल बनाया जा रहा है। वर्तमान में नए अस्पताल का 95 फीसदी काम पूरा हो चुका है। वहीं अगले पांच महीनों में बाकी का काम पूरे होने की बात कही जा रही है। 


पूरा हाेते ही बनेगा प्रदेश का सबसे बड़ा सरकारी अस्पताल : 
इस अस्पताल का काम पूरा होते ही इसे प्रदेश के सबसे बड़े सरकारी अस्पताल का खिताब मिल जाएगा। जिसमें नवीन ओपीडी के साथ ही ट्रामा बिल्डिंग की सुविधा भी आम लोगों को दी जाएगी। साथ ही मैकेनाइज्ड लांड्री और पैंट्री भी तैयार किए जा रहे हैं। इनसे कपड़े और खाना मरीजों तक पहुंचाने के लिए अंडरग्राउंड 12 फुटी चौड़ाई और ऊंचाई वाली टनल का निर्माण किया जा रहा है। 

इस टनल का उपयोग वार्ड बॉय और नर्स के अलावा मरीज भी कर सकेंगे। इस टनल के बनने के बाद पूरे अस्पताल परिसर में घूमने के लिए विभिन्न विभागों से बाहर आने की जरूरत नहीं होगी। इसका उपयोग कर किसी भी विभाग में आसानी से पहुंचा जा सकेगा। 

यह भी पढ़ें : भोपाल आया जिंदगी का टीका, भोपाल संभाग के 8 जिलों को मिली 94 हजार वैक्सीन

मल्टीलेवल पार्किंग से बनाया जा रहा है ओवर ब्रिज : 
अस्पताल में आने वाले मरीज यहां बनी मल्टीलेवल पार्किंग में अपने वाहन खड़े कर यहां से सीधे ही ओवर ब्रिज के माध्यम से ओपीडी तक पहुंच सकेंगे। इससे लोगों को पार्किंग में वाहन रखने में आसानी होगी, साथ ही ओपीडी तक पहुंचना भी आसान होगा। 

वहीं मेडिकल कॉलेज के चिकित्सकों के लिए भी एक ओवर ब्रिज बनाया गया है, जो सीधे मंदिर के ऊपर से होते हुए मेडिकल काॅलेज पहुंचेगा। इसका उपयोग मेडिकल कॉलेज के स्टूडेंट भी कर सकेंगे।


इस तरह से कनेक्टेड होंगे सभी कॉरीडोर : 
1. अंडर टनल : ब्लॉक 1 और ब्लॉक 2 को कनेक्ट करेगी। 
2.  कनेक्टिंग कॉरीडोर : ब्लॉक 1 और ब्लॉक 2 को कनेक्ट करेगी।
3. कनेक्टिंग कॉरीडोर : ब्लॉक 1 और मल्टीलेवल पार्किंग को कनेक्ट करेगी।
4. कनेक्टिंग कॉरीडोर : ब्लॉक 2 और मल्टीलेवल पार्किंग को कनेक्ट करेगी। 
5. कनेक्टिंग कॉरीडोर : मेडिकल कॉलेज और मल्टीलेवल पार्किंग को कनेक्ट करेगी। 
6. कनेक्टिंग कॉरीडोर : नई ओपीडी और पुरानी ओपीडी के बीच प्रस्तावित। 
7. फुट ओवर ब्रिज : मल्टीलेवल पार्किंग से नए ओपीडी को जोड़ेगा। 

यह भी पढ़ें : भोपाल के खेड़ापति हनुमान, भक्तों को देते हैं राजयोग
 

 Latest Stories