सालों से जर्जर सड़क का 15 दिन पहले हुआ भूमिपूजन, लेकिन सिर्फ झाड़ियां ही हटीं 

अहमदपुर में प्रधान मंडपम से होते हुए संस्कृत संस्थान के सामने निकलने वाली सड़क के निर्माण कार्य के लिए 15 दिन पहले भूमिपूजन किया गया, लेकिन सड़क निर्माण के नाम पर अब तक कोई भी काम नहीं किया गया। निर्माण एजेंसी ने अभी केवल सड़क किनारे की जंगली झाड़ियों को हटाकर जगह को ही समतल किया है। इस सड़क का निर्माण पीडब्ल्यूडी को करना है, लेकिन सड़क निर्माण में हाे रही ढिलाई से रहवासियों को डर है कि पहले की तरह इस बार भी सड़क निर्माण का सपना दिखाकर सड़क को अधूरा न छोड़ दिया जाए। 

(प्रधान मंडपम के पास से निकलने वाली जर्जर सड़क जिस पर 15 दिन पहले निर्माण कार्य शुरू हुआ है)

5 साल पहले दुर्घटनाग्रस्त हुई थी गर्भवती महिला :
रहवासियों के अनुसार 5 साल पहले एक गर्भवती महिला इस सड़क से निकलने के दौरान दुर्घटना का शिकार हो पास स्थित सिंचाई विभाग की नहर में गिर गई थी। जिसके बाद सड़क के निर्माण को लेकर खूब हंगामा हुआ था, तत्कालीन विधायक बाबूलाल गौर ने तब अधिकारियों से चर्चा कर तत्काल सड़क का निर्माण करने के लिए कहा था, लेकिन समय के साथ मामला ठंडे बस्ते में चला गया। 

(एरिगेशन विभाग की इसी नहर में गिरकर एक गर्भवती महिला गंभीर रूप से घायल हुई थी।)

एरिगेशन विभाग की है जमीन :
जिस जमीन पर सड़क का निर्माण होना है, वह सिंचाई विभाग के कब्जे में आती है। इसलिए सड़क निर्माण में देरी हुई है। वर्तमान में उसी जमीन की पास की जगह पर पीडब्लयूडी को सड़क बनाकर देनी है। इसके लिए 15 दिन पूर्व स्थानीय विधायक और पूर्व महापौर कृष्णा गौर ने भूमिपूजन भी किया, लेकिन अब तक सड़क का निर्माण नहीं हो सका है। 

परेशान रहवासियों ने निकाला था कैंडल मार्च :
इसी सड़क के किनारे एक स्कूल भी स्थित है। खराब सड़क के कारण जब स्कूल बस दुर्घटनाग्रस्त हो गई थी। तब स्कूल के संचालक अमरनाथ मिश्रा और टीचर्स के नेतृत्व में बच्चों के माता-पिता और रहवासियों ने एक कैंडल मार्च निकाला था। उस दौरान भी सड़क निर्माण की उम्मीद जगी थी, लेकिन उसके बाद भी अचानक सबकुछ रुक गया। जिसके बाद सड़क नहीं बन सकी।  

(स्कूल संचालक अमरनाथ मिश्रा, जो सड़क निर्माण को लेकर सालों से सक्रिय है)
पहले भी कई बार आस जगा कर रोक दिया काम : 
स्कूल संचालक अमरनाथ मिश्रा बताते हैं कि पहले भी कई बार सड़क निर्माण की आस जगा कर सड़क का काम रोक दिया गया है। जिससे सभी रहवासियों काे परेशानी होती है। इस बार भी 15 दिन पहले भूमिपूजन तो हुआ है, लेकिन निर्माण कार्य अब तक शुरू नहीं हुआ है। जिससे यहां के सभी लोग चिंतित हैं। 
 

(स्थानीय रहवासी जेपी यादव जिनके सामने अनेक लाेग इसी सड़क पर दुर्घटना का शिकार हुए हैं)
अक्सर होती हैं दुर्घटनाएं : 
कुंजन नगर निवासी जेपी यादव बताते हैं कि यहां अक्सर दुर्घटनाएं होती रहती हैं। साथ ही सड़क के खराब होने का फायदा उठाकर यहां असामाजिक तत्व भी काफी सक्रिय रहते हैं। जिसके कारण महिलाएं शाम को अकेले घर वापिस आ ही नहीं पातीं। कई बार असामाजिक तत्व महिलाओं से लूटपाट की घटनाओं को भी अंजाम दे चुके हैं। 

 Latest Stories