करोंद में तड़प-तड़प कर मर रहे कबूतर और कुत्ते, जिला प्रशासन ने अब तक नहीं ली सुध

कोरोना को लेकर आम आदमी पहले से ही डरा सहमा हुआ है। वहीं इसी बीच मंगलवार को देर रात करोंद क्षेत्र में एक साथ कई कबूतरों के तड़प-तड़प कर मरने से लोग घबरा गए हैं। मप्र के कई जिलों में पहले से ही बर्ड फ्लू को लेकर अलर्ट जारी है। इसी बीच करोंद के सेंट जॉर्ज को-एड सीनियर सेकेंड्री स्कूल में रात को एक के बाद एक कई कबूतर तड़प तड़प कर मरने लगे। जिसका वीडियो देखते ही देखते सोशल मीडिया पर वायरल हो गया। 


इसकी जानकारी तत्काल ही जोन-17 के एएचओ आसिफ नजीर को दी गई, लेकिन समय पर मृत पक्षियों को नहीं हटाने से स्कूल प्रशासन में चिंता बढ़ने लगी, जिसे देर रात स्कूल प्रशासन द्वारा इन्हें एक जगह गड्‌ढा खोदकर दफना दिया गया। हालांकि बाद में निगम अमले ने मौके पर पहुंच कर दवा का छिड़काव किया गया।

एक सप्ताह से ही मर रहे हैं जानवर : 
इसके पहले करोंद क्षेत्र में कई आवारा कुत्ताें के मरने की खबर सुन रहवासी दहशत में आ गए थे। इसकी जानकारी समय-समय पर सोशल मीडिया पर वायरल होती रही है। मंगलवार को करोंद के रसल्ली में एक कुत्ते की अचानक ही मौत हो गई। इसके पहले कुत्ता बिल्कुल स्वस्थ बताया जा
रहा था। वहीं पिछले सप्ताह विश्वकर्मा नगर और करोंद के अन्य क्षेत्रों में भी आवारा कुत्तों के मरने की खबरें सामने आती रही हैं। 


करोंद में बड़े पैमाने पर पाले जाते हैं कबूतर : 
करोंद में बड़े पैमाने पर कबूतर पाले जाते रहे हैं। जिनकी अवैध रूप से खरीद फरोख्त भी होती है। जानकारी के मुताबिक ज्यादातर लोग सर्दियों में कबूतरों को चिकन शॉप वालाें को बेचते भी हैं। वहीं पिछले एक सप्ताह से करोंद के कई क्षेत्रों से कबूतरों के मरने की जानकारी सामने आती रही है, लेकिन फिलहाल अब तक न तो जिला प्रशासन ने और न ही पशु चिकित्सकों ने इसकी सुध ली है।

 Latest Stories